News


Vice President and Acharya Lokesh hold exclusive discussion in Historic Art Institute of Chicago India Saints should lead the world in the field of spirituality - Vice President Religion should be connected with Social welfare - Acharya Lokesh

13-09-2018

Vice President of the Republic of India, His Excellency Mr. Venkaiah Naidu ji and Eminent Spiritual Leader Acharya Dr. Lokeshmunji ji Chicago had an exclusive discussion at that historic Art Institute of Chicago, where 125 years ago Swami Vivekananda had overwhelmed the entire world with his expressive message in the World Religious Parliament. Ambassador of India, Mr. Navtej Sarna also participated in the discussion. Vice President of India His Excellency Mr. Venkaiah Naidu said that the Saints of India have always shown world the path towards social welfare. Many great personalities oof India like Lord Buddha, Lord Mahavir, Guru Nanak, Swami Vivekananda and Adi Shankaracharya have shown the path which was appreciated and adapted by world population. Many Global Problems can be solved by adopting the principles and philosophy presented by the saints of India. He said that all the saints, the Mahatma, the religious and spiritual master of the present times need to show the path for world welfare from one platform. Founder of Ahimsa Vishva Bharti Jain Acharya Dr. Lokesh Muni said that connecting religion with social service is necessary for social welfare. Connecting religion with spiritualism and making it a medium for elimination of social evils is the need of present times. We all want development, want prosperity. Social life favours peace, fraternity, love, non-violence and equitable development. Development and peace have deep relations. We should pay attention to the inter-religious dialogue for peace in the society. Indian Ambassador Mr. Navtej Sarna said that under the leadership of Acharya Lokesh, Ahimsa Vishva Bharti organisation is constantly trying to establish non-violence, peace and harmony, upliftment of human values and human character in India and Internationally. We hope that Ahimsa Vishva Bharti branche in the US will work for spreading these values in a more effective manner.

भारत के उपराष्ट्रपति एवं आचार्य लोकेश की शिकागो के ऐतिहासिक आर्ट इंस्टीट्यूट में विशिष्ठ चर्चा भारत के संत विश्व का अध्यात्म के क्षेत्र में विश्व का मार्गदर्शन करें – उपराष्ट्रपति धर्म को समाज सेवा से जोड़कर उसे समाज कल्याण का मार्ग बनाये - आचार्य लोकेश

भारतीय गणतंत्र के शिखर पुरूष महामहिम उप राष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू जी व अध्यात्म के शिखर पुरूष पू. आचार्य डॉ लोकेशमुनि जी शिकागो ने उस ऐतिहासिक आर्ट इंस्टीट्यूट में विशिष्ठ चर्चा की जहाँ 125 वर्ष पूर्व पूज्य स्वामी विवेकानंद जी ने विश्व धर्म संसद में अपने ओजस्वी संबोधन से सम्पूर्ण विश्व को अभिभूत किया था। चर्चा में अमेरिका में भारत के राजदूत श्री नवतेज सरना ने भी भाग लिया । भारत के उपराष्ट्रपति महामहिम श्री वेंकैया नायडू ने कहा कि भारत के संतों ने विश्व जनमानस को सदैव समाज कल्याण का मार्ग दिखाया है | भारत के अनेक महापुरुषों जैसे भगवान बुद्ध, भगवान महावीर, गुरु नानक, स्वामी विवेकानंद, आदि शंकराचार्य ने जो मार्ग दिखाया उसे विश्व ने सराहा और अपनाया |भारत के संतो द्वारा प्रतिपादित सिद्धांतों और दर्शन को अपनाने से अनेक वैश्विक समस्याओं का समाधान संभव है | उन्होंने कहा कि जरुरत है वर्तमान के सबी संत, महात्मा, धार्मिक व अध्यात्मिक गुरु एक मंच से विश्व कल्याण का मार्ग प्रेषित करे | अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक जैन आचार्य डा. लोकेश मुनि ने कहा कि धर्म को समाज सेवा से जोड़कर उसे समाज कल्याण का मार्ग बना जरुरी है | धर्म को अध्यात्म से जोड़कर उसे सामाजिक कुरीतियों को मिटने का माध्यम बनाना होगा | हम सब विकास चाहते है, समृद्धि चाहते है | सामाजिक जीवन में शांति, बंधुत्व, प्रेम, अहिंसा एवं समतामूलक विकास के पक्षधर हैं | विकास व शांति का गहरा सम्बन्ध है | समाज में शांति के लिए हमें अंतरधार्मिक संवाद की और ध्यान देना चाहिए | भारत के राजदूत श्री नवतेज सरना ने कहा की आचार्य लोकेश के नेतृत्व में अहिंसा विश्व भारती संस्था भारत में ही नहीं अपितु विश्व में अहिंसा, शांति एवं सद्भावना की स्थापना, मानवीय मूल्यों के उत्थान, मानवीय चरित्र निर्माण के लिए निरंतर प्रयत्नशील है | अमेरिका में अहिंसा विश्व भारती की शाखा इन्ही मूल्यों को आगे बढ़ने के लिए और तेजी के काम करेगी ऐसी हम आशा रखते है |